As the “Chhapaak” shoot is halfway done, survivor Laxmi speaks about her painful 14 years of journey

0
454

It took a moment to break her dreams.  A second to spoil her whole life!!

The story of Acid attack survivor Laxmi Agarwal is known to all. Deepika Padukone, the starrer of Chhapaak will soon unveil the story of Acid attack survivor Laxmi Agarwal on 10th January 2020. Director Megha Gulzar is all excited and recently announced the wrap of a successful schedule in Delhi. Recently, Laxmi took to her Instagram profile to share a heartfelt note with a black and white picture where she recalled her 14-year painful journey.

View this post on Instagram

ATTACK DAY 22 APRIL 14 YEARS आज मेरे अटैक को 14 साल हो गए है, इन 14 सालों में बोहुत कुछ बदला है, बोहुत सारी चीज़ें अच्छी हुई बोहुत सारी चीज़ें बुरी जिसके बारे में सोच के भी डर लगता है, लोगों को लगता है, ऐसिड अटैक हुआ है ये सबसे बड़ा दुःख है, सबको यही दिखता है, जब कोई भी अटैक होता है , ना सिर्फ़ हमारी पूरे परिवार की ज़िंदगी बदल जाती है, अचानक से एक नया मोड़ आ जाता है, क्यूँकि वो इंसान एक बार अटैक करता है, सोसाइटी बार बार अटैक करती है, जीने नही देती जिससे जिसके ऊपर क्राइम हुआ है, वो या परिवार का कोई एक व्यक्ति आत्महत्या कर लेता है, मुझे पता है हर साल ये तारिख मेरे जीवन में आएगी और आज का दीन उस दिन जैसा ही तकलीफ़ भरा होता है, उस वक़्त तो पापा भाई भी थे पर आज वो भी नही है, हर 22 अप्रैल मेरे लिए कुछ नई तकलीफ़ देती है, जिसके बारे में सोच के भी डर जाती हूँ, आख़िर मैं भी इंसान हु मुझे भी तकलीफ़ होती है, मैं कभी नही चाहती जो मेरे साथ हुआ है वो किसी और के साथ हो, जब मैं 15 साल की थी तो अपने पापा मम्मी से कुछ नही बोल सकी मन में डर था कही ना कही की अगर कहा तो मुझे ही ग़लत बोलेंगे और वो चुपी की वझा से उस क्रिमिनल ने फाएदा उठाया आज इस पोस्ट को हर कोई पड़ेगा, और मैं चाहती हूँ इस पोस्ट से आप लोग एक सबक़ ले जो माँ बाप है वो अपने बच्चों के साथ दोस्ती करे ताकि वो अपने मन की बात आपको बता सकते क्यूँकि जब भी कोई दिक़्क़त होती है माँ बाप को ही ज़्यादा परेशान होना पड़ता है, और जो बच्चे है, वो भी अपने मम्मी पापा के साथ दोस्ती करे, अपने मन की बात आप अपने मम्मी पापा को बताइए ताकि जो भी दिक़्क़त हो वो साथ मिलकर ठीक कर सके,याद रहे अटैक शिरफ एक पर्सन पर नही पूरे परिवार पर होता है ……. #stopsaleacid

A post shared by Laxmi Agarwal (@thelaxmiagarwal) on

In the black and white photo of herself, she wrote a note about her painful and death experiencing journey. She wrote that it’s been 14 years now. It’s been so long and all these years a lot of changes happened in her life. That time her brother and father were there with her supporting her but now they are not here anymore. She says that she feels scared thinking about this date and what it’s coming for her in the coming years. The attacker only attacks once but the society keeps attacking continuously and doesn’t let one live. One or more than one member of the victim’s family commits suicide in depression. She never wants anyone else to suffer what they went through. She was just 15 years old and couldn’t open or speak about her feelings to her parents and the advantage of my silence was taken by the attacker at that time. Through her post, she appealed and reached out to all the parents out there and requested them to be free and friendly with their children and to all the children to be friendly with their parents.

For more entertainment news: chiggywiggy.in

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here